एक पंक्ति का एस एम एस - रात 2:45 पर ओम व्‍यास जी नहीं रहे

आज की सुबह एक दुखद एसएमएस के साथ हुई एक पंक्ति का एसएमस मिला है रात 2:45 पर श्री ओम व्‍यास जी नहीं रहे । पता नहीं क्‍यों मन नहीं माना सो अपने मित्र और स्‍टार न्‍यूज के मध्‍य प्रदेश प्रमुख श्री ब्रजेश राजपूत जी को फोन किया । कुछ देर पूर्व एक और एसएमएस उनकी तरफ से आया -नहीं रहे । कुछ कहने सुनने की स्थिति में नहीं हूं बस ये कि हंसी के उस सम्राट को जिसने अपने सिद्धांतों के चलते टीवी चैनल के एक बड़े हास्‍य शो में जाने से उस समय मना कर दिया जब कार्यक्रम का प्रोडयूसर उनके घर तक चल कर आया, मेरी श्रद्धांजलि ।

Om-Vyas-Om

OM12 b

विदा ओम जी

14 comments:

Vivek Rastogi said...

हमारी भावभीनी श्रद्धांजली .

Udan Tashtari said...

अति दुखद!! मेरी श्रद्धांजलि .

अविनाश वाचस्पति said...

विनम्र श्रद्धांजलि।
इस विधि पर बस नहीं
बेबस ही हैं सब जन
ओम जी को नमन।

नितिन | Nitin Vyas said...

श्रद्धांजलि

नीरज गोस्वामी said...

क्या कहूँ? मेरा अटूट विश्वास था की वो सकुशल वापस लौटेंगे...अपने विश्वास के टूटने और उनके जाने के दुःख को कैसे व्यक्त करूँ....इश्वर दिवंगत की आत्मा को शांति प्रदान करे.
नीरज

Suresh Chiplunkar said...

हम उज्जैन वासियों के लिये यह परिवार के एक सदस्य के बिछड़ने के समान है… बेहद दुखद…

मुनीश ( munish ) said...

My heartfelt condolence to his family.

सुशील कुमार छौक्कर said...

अति दुखद सूचना। हमारी तरफ से भावभीनी श्रद्धांजली।

ALOK PURANIK said...

ओमजी की स्मृति को नमन।

काजल कुमार Kajal Kumar said...

दुखद समाचार, विनम्र श्रद्धांजली.

Nirmla Kapila said...

बहुत दुखद मेरी भावभीनी श्रधाँजली

बलराम अग्रवाल said...

अति दुखद समाचार। ओमजी को भावभीनी श्रद्धांजलि।

मुकेश कुमार तिवारी said...

.........ओम हरि ओम

श्रद्धा सुमन ।

मुकेश कुमार तिवारी

ravindra vyas said...

shradhhanjali!